Vigyan ke chamatkar nibandh : विज्ञान के चमत्कार पर निबंध

Vigyan ke chamatkar nibandh विज्ञान के चमत्कार पर निबंध जो बहुत महत्वपूर्ण है. इसमें आज हम सबसे पहले विज्ञान के चमत्कार पर निबंध 300 शब्दों में फिर बड़ा निबंध 1000 शब्दों में जानेंगे और उसके बाद विज्ञान पर 10 पंक्तियाँ भी दी गयीं हैं.

विज्ञान के चमत्कार निबंध 300 शब्द

Vigyan ke Chamatkar Nibandh, विज्ञान ने हमारे जीवन में अनेकों चमत्कार किये हैं जिनके कारण आज हमारा जीवन पूरी तरह से बदल चुका है. विज्ञान ने हमें आज वो सबकुछ दिया है जिसकी इन्सान को जरूरत थी.

विज्ञान एक ऐसी कला है जिसमे नई नई चीजें खोजने की कला होती है अर्थात नए अविष्कार किये जाते हैं. जो मानव जाति के लिए एक वरदान होते हैं.

विज्ञान ने अपना कब्ज़ा आज सभी जगह जमाया हुआ है जो मानव जाति के जीवन में नए नए चमत्कार करता है. जो बहुत ही उपयोगी होते हैं.

इन्सान का चाँद पर जाना और हमारे भारत का चंद्रयान 3 को चाँद पर पंहुचाना यह सब विज्ञान के चमत्कार है. जो हमें नयी नयी जानकारी देते हैं.

शिक्षा, चिकित्सा, मनोरंजन, व्यापार, यात्रा आदि के क्षेत्र से लेकर हमारे घर में रोजमर्रा के इस्तेमाल की चीजो तक विज्ञान ने हर चीज में चमत्कार दिखाया है.

पहले इन्सान पैदल यात्रा करता था लेकिन आज आसमान में अगर उड़ रहा है तो यह विज्ञान के कारण संभव हो पाया है.

तरह तरह की मशीनों का अविष्कार करके विज्ञान ने घंटो का काम मिनटों में पूरा करने का चमत्कार किया है जिससे बहुत समय की बचत होती है.

लेकिन इस बात से कोई इंकार नहीं कर सकता कि विज्ञान ने जहाँ हमें उपहार दिए हैं वहीँ कुछ न कुछ अभिशाप भी दिया है.

जैसे अगर बात करें तो यात्रा करते समय जिस वाहन का इस्तेमाल होता है उससे निकलने वाला धुंआ और ध्वनि से होने वाला वायु प्रदुषण और ध्वनि प्रदुषण हमारे पर्यावरण को मिला है. जो वातावरण के लिए हानिकारक होता है.

नए नए परमाणु हथियार और जैविक हथियार पूरी मानव जाति के साथ साथ पूरे वातावरण के लिए भी अभिशाप हैं जो हमें विज्ञान ने दिए हैं.

हर चीज इन्सान के इस्तेमाल करने के तरीके पर निर्भर करती है कि उसको विज्ञान से क्या चाहिए. क्यूंकि अक्सर कर चीज के दो पहलु होते हैं, एक सही और एक गलत. आपको क्या चुनना है यह आपको ही तय करना होता है.

Vigyan ke Chamatkar Nibandh 1000 शब्द

प्रस्तावना:- Vigyan ke Chamatkar Nibandh, विज्ञान का हमारे जीवन में बहुत अधिक महत्व है. आज के युग में विज्ञान मानव जाति के लिए एक वरदान बन गया है. आज हमारे जीवन में विज्ञान का बहुत महत्वपूर्ण योगदान है. घर से बहार निकलने पर आज हम जो भी छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी मानव निर्मित चीजों को देखते हैं. उनका ज़रूर कोई न कोई विज्ञान से लेना देना ज़रूर होता है.

इसी तरह घर के अन्दर भी अनेको मानव निर्मित प्रोडक्ट जिनमे विज्ञान का कोई न कोई योगदान ज़रूर होगा. जो हमारे दिनचर्या में बहुत काम आती हैं.

अगर बात करें विज्ञान के चमत्कार की तो विज्ञान आज के समय में हर जगह सभी क्षेत्र में अपना योगदान दिए हुए है, फिर चाहें बात छोटी चीज की हो या बड़ी बड़ी चीजों की हो.

आज विज्ञान ने लगभग सभी तरह के फील्ड पर अपना कब्ज़ा जमाया हुआ है. अगर विज्ञान एक वरदान है तो कुछ हद तक यह अभिशाप भी साबित होती है.

विज्ञान के लाभ

वैसे तो विज्ञान ने हर क्षेत्र में अपने पैर जमाये हुए हैं लेकिन Vigyan ke chamatkar nibandh में यहाँ पर हम खास क्षेत्र की बात करेंगे. जिनमे विज्ञान का बहुत योगदान रहा है.

कृषि के क्षेत्र में विज्ञान का योगदान

हमारा भारत देश एक कृषि प्रदान देश है और कृषि में भी आज विज्ञान ने अपना बहुत योगदान दिया है. फसल की बुबाई से लेकर कटाई तक इसमें कई मशीने ऐसी इस्तेमाल होती हैं, जिनसे किसान बहुत ही आसानी से अपने कार्य को कर लेते हैं.

जैसे पहले किसान अपने खेतो में जुताई और अन्य कृषि कार्य हेतु बैलों का सहारा लेते थे. लेकिन आज ऐसा नहीं नहीं. आज के युग में किसान अपने कृषि कार्य ट्रेक्टर व अन्य कृषि यंत्रो का इस्तेमाल करता है.

बीजों का रखरखाव, कीटनाशक, खरपतवार नाशक, मिट्टी की उर्वरक शक्ति और फसलों की देखभाल आदि में आज विज्ञान ने बहुत बड़ा योगदान दिया है.

शिक्षा के क्षेत्र में विज्ञान का योगदान

शिक्षा के क्षेत्र में विज्ञान ने अपनी बहुत बड़ी भूमिका अदा की है. आज का दौर तो इन्टरनेट का दौर है इसमें होने वाली नई नई चीजों का अविष्कार यह सब विज्ञान के द्वारा ही संभव हो पाया है. ऐसे में शिक्षा के क्षेत्र में computer के साथ साथ नई नई तकनिकी को आज शिक्षा में शामिल किया गया है.

सोशल मीडिया के क्षेत्र में विज्ञान का योगदान

जहाँ पहले लोगो तक अपनी बात पहुँचाने का साधन अख़बार आदि हुआ करता था. फिर धीरे धीरे रेडियो, टेलीविसन आदि मीडिया साधन आते गए. और अब इन्टरनेट के माध्यम से बहुत तेजी से हम एक दुसरे के साथ जुड़ जाते हैं.

बल्कि एक दुसरे के साथ ही नहीं, एक साथ अनेकों लोगों को जोड़ा जा सकता है. आप अपनी बात को इन्टरनेट सोशल मीडिया के माध्यम से सीधा कई लोगों तक बहुत जल्दी और आसानी से पहुंचा सकते हैं. जो आज विज्ञान द्वारा ही संभव हो पाया है.

चिकित्सा के क्षेत्र में विज्ञान का योगदान

जिस तरह आज नई नई बीमारियाँ जन्म ले रही हैं. उनसे निबटने के लिए लगातार हमारे वैज्ञानिक लगे रहते हैं. रोगों की जाँच से लेकर उनके इलाज तक, विज्ञान ने काफी सफलता हासिल की है.

घातक बिमारियों का इलाज सफलतापूर्वक करना विज्ञान की ही दें है. चिकित्सा क्षेत्र में नए नए यंत्रो व औषधियों के द्वारा रोगों का इलाज आसान और सफल हुआ है. यह सब विज्ञान की ही देन है.

यातायात के साधन

एक जमाना था जब लोग एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए पैदल ही जाया करते थे. फिर धीरे धीरे साइकिल, मोटर साइकिल जैसे अन्य यातायात के साधनों का अविष्कार होता गया. और आज रेलगाड़ी और वायुयान जैसे यातायात के साधन मौजूद है.

जिसकी वजह से हम घंटो का सफ़र मिनटों में तय कर लेते हैं. आज यात्रा करना और सामान को यहाँ से वहां पहुँचाना बहुत आसान हो गया है. जो विज्ञान की वजह से संभव हो पाया है.

इस प्रकार विज्ञान ने सभी क्षेत्र में अपना योगदान दिया है. जहाँ विज्ञान ने हमें इतना कुछ दिया है इसमें कोई दोराहे नही कि उसके साथ साथ विज्ञान ने हमें कुछ नुकसान भी पहुंचाए हैं.

विज्ञान से हानि

Vigyan ke chamatkar nibandh में अब जानते हैं कि विज्ञान से आखिर हानियाँ क्या हो सकती हैं? तो आज हर काम इतना आसान बन गया है कि हम काम को खुद करने कि वजाय मशीनों से करवाते हैं. जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल सही नही है.

विज्ञान के अनेकों ऐसे अविष्कार जो मानव जाति के लिए अभिशाप बन गए है. परमाणु बम व अन्य जैबिक हथियार आज मानव के लिए किसी मुसीबत से कम नहीं हैं.

कल कारखानों से निकलता हुआ धुआँ, वातावरण को दूषित करता है. यातायात के वाहनों से वातावरण में वायु प्रदुषण और ध्वनि प्रदुषण फैलता है.

ठीक इसी तरह अगर विज्ञान ने हमें जितने भी चमत्कार दिए हैं उनमे कहीं न कहीं उसके साथ साथ उसके गलत प्रभाव भी साथ रहे हैं.

विज्ञान के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियाँ

विज्ञान की परिभाषा:-  साइंस शब्द की उत्पत्ति लैटिन भाषा के शब्द scientia से मानी जाती है  जिसका अर्थ होता है जानना .

“साइंस को हिंदी भाषा में विज्ञान कहते हैं. अर्थात एक विशिष्ट प्रकार के ज्ञान को विज्ञान कहते हैं”.

और हम यह भी कह सकते हैं कि प्राकृतिक घटनाओं के परीक्षणों पर आधारित  क्रमबद्ध एवं व्यवस्थित ज्ञान को विज्ञान कहते हैं.

आदिकाल से ही विज्ञान का विकास होता रहा है आज मानव ने विज्ञान का इतना अधिक ज्ञान प्राप्त कर लिया है कि उसके अध्ययन के लिए मानव को अनेक शाखाओं में विभाजित करना पड़ा है. यहां पर हम आपको विज्ञान की कुछ प्रमुख शाखाएं बता रहे हैं जैसे-

  1. भौतिक या भौतिकी विज्ञान
  2. रसायन विज्ञान
  3. प्राणी विज्ञान
  4. वनस्पति विज्ञान
  5. भूगर्भ विज्ञान
  6. खगोल विज्ञान आदि.

साइंस कितने प्रकार के होते हैं?

Vigyan ke chamatkar nibandh में अब बात करते हैं इसकी शाखाओं के बारे में, साइंस ने आज के युग में इतनी तरक्की कर ली है कि इसको एक साथ देखना मुश्किल होता है.

इसलिए साइंस के अनेको भाग कर दिए गए हैं जो उनके अलग अलग विषय के हिसाब से हैं. लेकिन यहाँ पर हम विज्ञान के कुछ मुख्य शाखाओं के बारे में जानेगें.

भौतिक विज्ञान भौतिकी, विज्ञान की वह शाखा है जिसमें द्रव्य तथा ऊर्जा के विभिन्न रूपों एवं उसकी अन्योन्य क्रियाओं का अध्ययन किया जाता है. भौतिक विज्ञान कहलाती है.

रसायन विज्ञान- विज्ञान की वह शाखा जिसके अंदर पदार्थों के संघटन, संरचना, गुणों और रासायनिक प्रतिक्रिया के दौरान इसमें हुए बदलाव के बारे में अध्ययन करते हैं. रसायन विज्ञान कहलाती है.

प्राणी विज्ञान- विज्ञान की वह शाखा जिसके अंदर जीव जंतु या प्राणियों के जीवन और उनके शरीर व विकास और उसके वर्गीकरण से संबंधित जो अध्ययन किया जाता है वह प्राणी विज्ञान के अंतर्गत आता है.

वनस्पति विज्ञान- विज्ञान की वह शाखा जिसके अंतर्गत सभी प्रकार के पेड़ पौधों का अध्ययन किया जाता है वह बनस्पति विज्ञान के अंतर्गत आता है.

भूगर्भ विज्ञान- यह विज्ञान की वह शाखा है जिसके अंतर्गत पृथ्वी के बारे में जो अध्ययन किया जाता है वह भूगर्भ विज्ञान के अंतर्गत आता है.

खगोल विज्ञान- विज्ञान की वह शाखा जिसके अंतर्गत खगोलीय वस्तुओं का अध्ययन किया जाता है मतलब ब्राह्मण का अध्ययन किया जाता है जिसमें ग्रहों के उपग्रह सितारे आकाश आदि के बारे में अध्ययन किया जाता है यह सभी खगोल विज्ञान के अंतर्गत आते हैं.

उपसंहार

vigyan ke chamatkar nibandh, विज्ञान एक वरदान है यह बिल्कुल सही बात है. लेकिन इसको इस्तेमाल कैसे करना है? यह इंसानों पर ही निर्भर है. क्यूंकि यह वरदान के साथ साथ अभिशाप भी है. हमें पूरी तरह से खुद को विज्ञान के भरोसे नहीं छोड़ना चाहिए. मशीनों का इस्तेमाल जरूरी तौर पर करे. और अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखे.

विज्ञान के चमत्कार निबंध 10 लाइन

  1. एक विशिष्ट प्रकार के ज्ञान को विज्ञान कहते हैं.
  2. जिसने हमारे जीवन में बहुत बड़ी भूमिका निभाई है.
  3. विज्ञान ने हमारे जीवन को बहुत सरल और आसान बना दिया है.
  4. हम घंटो का काम मिनटों में और मिनटों का काम सेकेंटो में अगर कर पा रहे हैं तो यह विज्ञान की देन है.
  5. विज्ञान ने हर फ़ील्ड में हमें बहुत कुछ दिया है.
  6. शिक्षा, चिकित्सा, मनोरंजन, व्यापार, यात्रा आदि के क्षेत्र में विज्ञान का बहुत बड़ा योगदान है.
  7. विज्ञान की मदद से इन्सान धरती से चाँद तक पंहुच गया.
  8. विज्ञान के लाभ के साथ साथ इसकी कुछ हानि भी होती हैं.
  9. इसलिए विज्ञान एक वरदान भी है और अभिशाप भी है.
  10. हमें विज्ञान का कभी भी गलत इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.
दोस्तों के साथ शेयर करें
Shanu khan
Shanu khan

Hi dear Reader !
I’m Shanu Ali Khan from Uttar Pradesh; my qualification is postgraduate. I am founder of hindieducation[dot]in site. I’m freelancer as well as Hindi writer.

2 Comments

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *