जल संरक्षण के 10 तरीके बताएं | jal Sanrakshan Par Nibandh

यहाँ जल संरक्षण के 10 तरीके और Jal Sanrakshan par nibandh हिंदी में दिए गए है . जल संरक्षण पर निबंध 10 वाक्य छोटे बच्चो के लिए निचे दिए गए है जो आसान भाषा में लिखे गए हैं .

जल संरक्षण के 10 तरीके

  1. पानी को फालतू बहाना नहीं चाहिए.
  2. नहाते समय लगातार नल ना चलाएं या फिर पानी को बाल्टी में भरकर रख लें उस से स्नान करें.
  3. कुछ घरों में काफी गमले, पौधे आदि होते हैं तो उनमें हम सीधे नल से पानी ना लगाकर बल्कि इन पौधों की सिंचाई उस पानी से करें जिस पानी से घर में पकने वाली सब्जियां धोई जाती हैं या इस तरह का इस्तेमाल किया हुआ बचा हुआ जल हो, लेकिन याद रहे उस जल में कोई ऐसा अपमार्जक या केमिकल ना हो जो पौधों के लिए हानिकारक हो.
  4. कहते हैं कि बूंद बूंद से सागर बनता है तो यह सच्चाई है लेकिन अगर नल की टोटी से पानी लगातार टपक रहा है यह कोई धोखे से नल की टोटी खुली छोड़ देता है तो उसे जरूर बंद करें.
  5. आजकल पानी को बर्बाद करने की एक समस्या गांव में देखने को ज्यादा मिल रही है अब गांव में लगभग ज्यादातर लोगों के घरों में समरसेबल है जो लोग उनका इस्तेमाल सही ढंग से नहीं करते. अगर नहाते भी हैं तो सीधे मोटर चला कर बैठ जाते हैं और बहुत देर तक लगातार पानी बहते रहते हैं जो पूरी तरह से गलत है अर्थात हमें ऐसा बिल्कुल नहीं करना चाहिए. पानी को किसी बाल्टी में भर लेना चाहिए और उससे ही स्नान करना चाहिए. और आवश्यकता अनुसार ही पानी का इस्तेमाल करें.
  6. फसलों की सिंचाई के दौरान खेतों में पानी अगर दिन के बजाय अगर शाम को लगे तो बेहतर होगा . क्योंकि दिन के समय खेतों में भरा हुआ पानी रात की अपेक्षा अधिक बातचीत होता है और अगला पानी जल्दी लगाना पड़ेगा जिससे अधिक पानी बर्बाद होगा.
  7. जल संरक्षण में सबसे अहम रोल वर्षा के पानी का है. अगर हम बारिश के पानी को ज्यादा से ज्यादा स्टोर कर ले तो इससे हम पानी की एक बड़ी मात्रा को सुरक्षित कर सकते हैं. इस सबसे कारगर तरीका वर्षा जल संचयन विधि (Rain Water Harvesting) है . जिसकी मदद से हम बारिश के पानी को सेव कर सकते हैं.
  8. आज तकनीक बहुत तेजी से बढ़ रही है तो नई नई तकनीक की मदद से भी जल संरक्षण की बहुत जरूरत है.
  9. नदी, तालाबों आदि ने समय-समय पर आवश्यकतानुसार इन पर कार्य होते रहना चाहिए .
  10. जल संरक्षण का सबसे महत्वपूर्ण पॉइंट यह है कि हमें यह कभी नहीं सोचना चाहिए की एक इंसान के करने से क्या होगा . अगर सब यही सोचेंगे तो फिर कोई नहीं कर पाएगा तो हमें यह मानकर चलना है कि जल को हमें ही बचाना है .

जल संरक्षण पर निबंध (Jal Sanrakshan par nibandh)

Jal Sanrakshan par nibandh यहाँ आपको आसान भाषा में मिलेगा. पानी कैसे बचाएं पर अगर बात करे तो जल संरक्षण की आज हमें बहुत अधिक आवश्यकता है. अगर जल के बर्बाद होने के बारे में हमने आज नहीं सोचा तो कल बहुत देर हो चुकी होगी. जल हमारे जीवन के साथ साथ हमारी प्रकृति के लिए भी बहुत जरूरी है.

आपको यह पता होना चाहिए कि जल के बगैर जीवन है ही नहीं. यहाँ पर आपको पानी कैसे बचाएं इसके लिए 10 jal sanrakshan ke upay बताए गए हैं. तो इसको निबंध के रूप में भी देख सकते हैं और जल संरक्षण के उपाय भी जान सकते हैं.

पानी को बचाना मतलब आने वाली पीढ़ी को बचाना है. लेकिन आज पानी की दर तेजी से घटती जा रही है. अगर यही हाल रहा तो वो दिन दूर नहीं होगा कि हमारे आने वाली पीढ़ियां स्वच्छ जल के लिए तरसेगी और उनका जीवन एक खुशहाल जीवन नहीं होगा. 

आजकल जल की कमी को हम खुद महसूस कर रहे हैं. क्योंकि आज से 15 से 20 साल पहले अगर हम घरेलू नलका बोरिंग कराते थे तो जमीन के अंदर पानी काफी ऊपर मिल जाता था लेकिन आज बहुत अधिक गहराई में जाकर मिलता है अर्थात पानी का वाटर लेवल बहुत अधिक कम हो गया है.

जिस तरह हमारे जीवन के लिए हवा जरूरी है सांस लेने के लिए, ठीक उसी तरह जल भी जीवन के लिए एक महत्वपूर्ण तत्व है. इसलिए जल को बचाना हमारा कर्तव्य है.

जल पीने के अलावा और किस काम आता है इसके बारे में हम अधिक बात नहीं करेंगे क्योंकि जल के उपयोग क्या क्या है यह आज हर व्यक्ति अच्छी तरह जानता है . लेकिन जल का उपयोग किस तरह से किया जाए इस विषय पर हम जरूर बात करेंगे.

 जल संरक्षण का महत्व

 jal sanrakshan par nibandh में अब बाते करते हैं इसके महत्व का तो जमीन का करीब 70% भाग पानी है. इसके बावजूद भी संसार के कई भाग ऐसे भी हैं जहां आज भी पीने योग्य साफ पानी की समस्या बनी हुई है . इसीलिए जल का संरक्षण बहुत जरूरी है.

जल संरक्षण हमारे जीवन पर तो असर डालता ही है इसके साथ साथ शुद्ध जल हमारे वातावरण पर भी लाभदायक सिद्ध होता है.

 पानी के बचाव में जल प्रदूषण भी शामिल है अतः हमें जल प्रदूषण के बारे में पूरा ज्ञान होना चाहिए और जल प्रदूषण को रोकना चाहिए. 

जल का उपयोग हमारे खाने पीने से लेकर कृषि तक सब कुछ आज लगभग पानी पर ही निर्भर है . औद्योगिक कारखाने हो या विद्युत निर्माण यह डायरेक्ट इनडायरेक्ट कहीं ना कहीं पानी से ही कनेक्टेड जरूर है. तो हमें आज जल संरक्षण पर ध्यान देने की बहुत अधिक जरूरत है .

 वैसे तो सरकार ने इस को लेकर कई नियम लागू किए हैं और समय के साथ इसको नई नई तकनीक के द्वारा जल संरक्षण पर ध्यान देने की जरूरत है . 

 जल संरक्षण कैसे करें

jal sanrakshan par nibandh में यह जानना बहुत जरूरी है कि आखिर जल का संरक्षण कैसे किया जाता है. जल को बचाने के लिए अगर हम स्वयं छोटी छोटी चीजों पर ध्यान देंगे और पानी को इस्तेमाल करते समय हमारी जो ऐसी आदत है जिसके कारण पानी अधिक बर्बाद होता है उनको अगर बदलेंगे तो जरूर हम जल को कुछ हद तक बचा पाएंगे.

तो अब हम जानेंगे कि हमें जल को बचाने के लिए क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए जिससे हमारी आने वाले पीढ़ियों को स्वच्छ जल की कमी की समस्या का सामना ना करना पड़े.

यहाँ पर हमने जल संरक्षण के 10 आसान उपाय बताये हैं. जिसकी मदद से आप काफी हद तक पानी की बचत कर सकते हैं.

उपसंहार

jal sanrakshan par nibandh in hindi में अब बारी आती है इसके निष्कर्ष की, 2007 से 2018 के दौरान भूजल स्तर में लगभग 61% तक की कमी आई है. हमारे देश में लगभग 40% क्षेत्रों में आज भी सूखे का संकट है.

वैसे तो पृथ्वी पर 96.5 परसेंट जल खारा है सिर्फ तीन परसेंट जल ही पीने योग्य है. इसलिए जल बचाना जरूरी है. तो आशा करते हैं कि यह jal sanrakshan par nibandh आपको पसंद आया होगा.

जल संरक्षण पर 10 वाक्य

  1. आज पानी की कमी तेजी से बडती जा रही है इसलिए इसको बचाना बहुत जरूरी है.
  2. पानी के वगैर जीवन संभव नहीं है.
  3. पानी बचाने के लिए हमें चाहिए कि हमारे द्वारा वेवजह पानी वार्बाद ना हो.
  4. पानी का इस्तेमाल करते समय कम से कम पानी का प्रयोग करे
  5. नल को इस्तेमाल करने के बाद तुरंत बंद करें.
  6. पेड़ पौधों की सिंचाई ज्यादातर शाम के समय करें.
  7. नदी, तालाब आदि में गंदगी ना डालें.
  8. वर्षा के पानी को सुरक्षित करने का प्रयास करें.
  9. नल से पानी जितनी जरूरत हो उतना ही निकाले.
  10. अगर आज जल संरक्षण पर ध्यान नहीं दिया गया तो भविष्य में इसकी किल्लत का सामना करना पद सकता है.
FAQ

Q 1. पानी का बचाव कैसे करें?

Ans. पानी को बचाने के लिए हमें और आपको चाहिए कि बेवजह पानी को वार्बाद ना किया जाए. पानी को फ़ालतू बहाना नहीं चाहिए. पानी की जितनी जरूरत हो उतना ही इसका इस्तेमाल किया जाये.

Q 2. पानी को क्यों बचाना चाहिए?

Ans. धरती पर मौजूद पेड़ पौधे, जीव जंतु सभी को जीवित रहने के लिए पानी का होना जरूरी है. आजकल पानी बहुत तेजी से घटता जा रहा है. अगर पानी को नहीं बचाया गया तो वो दिन दूर नहीं जब आने वाली पीढ़ी को पानी के लिए बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा. इसलिए पानी को बचाना चाहिए.

Q 3. जल संरक्षण क्या है?

Ans. जल संरक्षण का मतलब पानी का संरक्षण करना है अर्थात पानी को बचाना है. पानी के अनावश्यक इस्तेमाल के रोकने को जल संरक्षण कहा जाता है.

दोस्तों के साथ शेयर करें
Shanu khan
Shanu khan

Hi dear Reader !
I’m Shanu Ali Khan from Uttar Pradesh; my qualification is postgraduate. I am founder of hindieducation[dot]in site. I’m freelancer as well as Hindi writer.

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *