गणतंत्र दिवस पर निबंध : Gantantra Diwas par Nibandh

Gantantra diwas par nibandh

यहाँ पर आपको Gantantra diwas par nibandh यानि भारतीय गणतंत्र दिवस पर निबंध 100 शब्द, 200 शब्द और एक बड़ा निबंध जो 500 शब्दों में है, इसके बाद गणतंत्र दिवस पर निबंध 10 लाइन भी दी गयी हैं ।

गणतंत्र दिवस पर निबंध 100 शब्द

भारतीय गणतंत्र दिवस हर वर्ष 26 जनवरी को मनाया जाता है। यह भारत के तीन राष्ट्रीय त्योहारों में से एक है। यह पर्व पूरे भारत में मनाया जाता है। सन् 1950 में 26 जनवरी के दिन भारत एक गणतंत्र देश बना था। इस दिन भारत का संविधान लागू हुआ था।

हमारे देश का संविधान डॉ. भीम राव अम्वेडकर साहब ने लिखा था। स्कूल और सरकारी कार्यालयों आदि में आज के दिन बड़े बड़े प्रोग्राम होते हैं। बच्चो को मिठाइयाँ भी बांटी जाती है। तो हमारे देश का संविशन 26 नवम्बर 1949 को पूरी तरह तैयार हो गया था। लेकिन इसको 26 जनवरी 1950 को लागू किया किया।

गणतंत्र दिवस पर निबंध 200 शब्द

यहाँ हम भारतीय गणतंत्र दिवस के बारे में बात करने वाले हैं, यह राष्ट्रीय पर्व हर साल 26 जनवरी को बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है; क्यूंकि इस दिन हमारे भारत देश में आज़ादी के बाद 26 जनवरी सन् 1950 को नया भारतीय सविधान लागू हुआ था और हमारा देश एक गणतंत्र देश बन गया था।

गणतंत्र का मतलब होता है एक ऐसा देश जहाँ हर प्रत्येक मानव जाति की सुरक्षा की जाये और सबको एक सामान अधिकार हासिल हो, जनता का प्रितिनिधि जनता के दुवारा ही चुना जाये, उसे गणतंत्र कहा जाता है।

15 अगस्त सन् 1947 ई। को हमारा देश जब आजाद हुआ तो देश के सामने यह चुनौती थी कि देश को आगे बढानें के लिए किस तरह के कदम उठाये जाये अर्थात अब आजाद भारत का विकास कैसे किया जायेगा? इसके भारत को एक संविधान की जरूरत थी। इसको पूरा किया था डॉ. भीमराव अम्बेडकर साहब ने।

26 जनवरी 1950 से हर वर्ष भारत 26 जनवरी को एक राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाता है। इस दिन स्कूल और कई विशेष जगहों पर विभिन्न तरह के प्रोग्राम किये जाते हैं। मिठाईयां बांटी जाती हैं और सभी धर्म के लोग इस दिन मिलकर खुशियाँ मनाते हैं।

गणतंत्र दिवस पर निबंध 500 शब्द

प्रस्तावना:- Gantantra diwas par nibandh अर्थात 26 january par nibandh में आज हम आपको 26 जनवरी के बारे में बताएँगे, भारतीय गणतंत्र दिवस हमारे भारत वर्ष का एक राष्ट्रीय पर्व है। भारत के तीन राष्ट्रीय पर्व है – स्वतंत्रता दिवस जो 15 अगस्त को मनाया जाता है। गाँधी जयंती जो 2 अक्टूबर को मनाया जाता है और भारतीय गणतंत्र दिवस जो 26 जनवरी को मनाया जाता है। तो अब हम Gantantra diwas par nibandh में विस्तार से देखते हैं।

भारतीय गणतंत्र दिवस प्रोग्राम

Gantantra diwas par nibandh, भारतीय गणतंत्र दिवस के दिन स्कूल व कुछ खास कार्यालयों में मिठाइयाँ बांटी जाती है और भारतीय तिरंगा फहरा कर राष्ट्रीय गान गाया जाता है।

गणतंत्र दिवस के दिन भारत के राष्ट्रपति ध्वज रोहण करते हैं फिर सब लोग मिलकर राष्ट्रीय गान गाते हैं और फिर तिरंगा को सलामी दी जाती है।

भारतीय गणतंत्र दिवस वैसे तो पूरे देश में मनाया जाता है लेकिन देश की राजधानी दिल्ली में खास तौर पर इसका आयोजन किया जाता है यहाँ पर भव्य परेड, इंडिया गेट से लेकर राष्ट्रपति भवन तक आयोजित की जाती है।

भारतीय गणतंत्र दिवस का इतिहास

Gantantra diwas par nibandh भारतीय गणतंत्र दिवस, भारत के आजाद होने के बाद संविधान सभा की घोषणा हुई और यह काम 09/12/1947 से शुरू कर दिया गया था। इस सभा के सदस्य हिन्दूस्तान के राज्यों की सभाओं के निर्वाचित सदस्यों के दुवारा चुने गए थे जिसमे डॉ. भीम राव अम्वेडकर, डॉ. राजेन्द्र प्रसाद, मौलाना अबुल कलाम आजाद, सरदार वल्लभ भाई पटेल और देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु आदि इस सभा के मुख्य सदस्य रहे थे।

इस सभा के विधिवेत्ता डॉ. भीम राव अम्वेडकर थे और इस पूरी टीम के साथ डॉ. भीम राव अम्वेडकर ने 35 महीने और 18 दिन में भारतीय संविधान को पूरा कर दिया था। और इसके बाद संविधान सभा के अध्यक्ष डॉ राजेन्द्र प्रसाद को 26/11/1949 को इनके सुपुर्द भारत का संविधान कर दिया गया था। और इसीलिए भारत में संविधान दिवस 26 नवम्बर को मनाया जाता है।

फिर संविधान सभा ने 114 दिन तक मीटिंग की थी और फिर इस मीटिंग में प्रेस और जनता आदि को बैठने की पूरी आज़ादी दी गयी थी।

कई सुधारों और चेंजिंग के बाद इस सभा के 284 सदस्यों ने दिनांक 24/01/1950 को हाथों से लिखी हुई 2 कॉपियों पर अपने साइन किये।

फिर इसके दो दिन के बाद दिनांक 26/01/1950 को यानि के 26 जनवरी 1950 को यह पूरे देश भर में लागू कर दिया गया। इसी दिन से हमारे देश में भारतीय कानून व्यवस्था व भारतीय शासन लागू हो गया। जब से ही हमारे देश का प्रत्येक नागरिक समान अधिकार रखता है। पूरे देश में इसके नियमो का पालन किया जाता है। और इसी दिन से हर साल भारत का हर व्यक्ति 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाता है।

उपसंहार

Gantantra diwas par nibandh, भारतीय गणतंत्र दिवस इस दिन के सुभ अवसर पर पूरा भारत ख़ुशी ख़ुशी इस पर्व को बड़ी उत्साह से मनाता है । बहुत सारे सरकारी कार्यलय, निजी कार्यलय और सभी स्कूल व कॉलेज में इस दिन बड़ी ही धूमधाम से उत्साह समारोह दिखाई देता है। यह दिन पूरे भारत वर्ष में एक खुशहाली भरा दिन रहता है । 

गणतंत्र दिवस पर निबंध 10 लाइन

  1. भारतीय गणतंत्र दिवस हर साल 26 जनवरी को मनाया जाता है । 
  2. 26 जनवरी भारत देश के लिए एक महत्वपूर्ण दिन है। जिसे एक पर्व के रूप में मनाया जाता है।
  3. 26 जनवरी के दिन स्कूल में अनेकों प्रोग्राम होते हैं। और बच्चे अपनी अपनी कला प्रदर्शन करते हैं । 
  4. इस दिन भारत का संविधान लागू हुआ था। जिसे डॉ. भीम राव अम्बेडकर साहब ने लिखा था।
  5. 25 जनवरी 1950 में भारत एक सम्पूर्ण गणतंत्र देश बना था । 
  6. गणतंत्र दिवस देश का एक पवित्र पर्व है। जो पूरे देश में उल्लासपूर्वक मनाया जाता है।
  7. स्कूल में प्रधानाचार्य झंडा फहराते हैं और छात्रो को सम्बोधित करते हैं । 
  8. हमारे स्कूल में खेल कूद आदि मनोरंजन के अनेको कार्यक्रम होते हैं ।
  9. इस दिन चारो तरफ देश के शहीदों की जय के नारे गूँजते है । 
  10. 26 जनवरी के दिन, पूरा देश यह पर्व एक साथ मिलकर भारतीय गणतंत्र दिवस का पर्व मनाता है । 

भारतीय गणतंत्र दिवस यानि 26 january par nibandh के बारे में पढ़ कर आपको कैसा लगा जरूर बताएं और इसको अपने पढ़ने वाले दोस्तों के साथ शेयर भी करें । 

दोस्तों के साथ शेयर करें
Shanu khan
Shanu khan

Hi dear Reader !
I’m Shanu Ali Khan from Uttar Pradesh; my qualification is postgraduate. I am founder of hindieducation[dot]in site. I’m freelancer as well as Hindi writer.

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *